ब्लॉग में आर्टिकल का कीवर्ड किस लैंग्वेज में ज़्यादा अच्छा रहेगा?,Hindi Vs English Blog Which is more profitable?,kon se bhasa se post post jada accha rhega,Sb kuch Hindi Me

दोस्तों अगर आप एक नए Blog शुर किए हो तो फिर उस ब्लॉग में आप किस लैंग्वेज के अनुसार आर्टिकल पोस्ट करना चाहते हो उस लैंग्वेज के अनुसार ही Titles और फिर पूरा का पूरा आर्टिकल लिखिए।

मेरा कहने का यह मतलब है कि आपका ब्लॉग जिस लैंग्वेज पर Based है उस लैंग्वेज के अनुसार ही आप Keyword Research करें। और उस कीवर्ड रिसर्च के दौरान जो Keyword की Search Volume यानी जिस Keyword को हर महीने सबसे ज्यादा सर्च किया जाता है उस Keyword को ही अपने टाइटल पर इनपुट कीजिए।

मान लीजिए आप एक Topic पर आर्टिकल लिख रहे हो जोकि है ‘ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए’।

पहले आपको इस Keyword के ऊपर अच्छे से Keyword Research करना चाहिए फिर अगर आप Keyword Research करते समय यह देख रहे हैं कि इस Keyword पर हिंदी में लिखे गए अक्षर पर ही सबसे ज्यादा Volume है तो उसको ही अपना टाइटल बनाइये।

अगर आप यह दिख रहा है कि यह Keyword जो कि Hinglish में लिखा हुआ है, उस पर सबसे ज्यादा Search Volume है तो उसको ही अपने टाइटल बनाइये।

टाइटल किस लैंग्वेज पर बनाएंगे यह पूरा का पूरा निर्भर करता है Keyword Researching के ऊपर और आप जिस लैंग्वेज के ऊपर अपना टॉपिक सिलेक्ट किए हो उस टॉपिक के ऊपर। अगर आपको इसके ऊपर कोई डाउट से तो फिर जरूर कमेंट करके बताइए।

आप के मन में ये सवाल जरुरु होगा की में जो article लिखूंगा वो किस भासा में जादा फायदा देगा मुझे की में जादा पैसे कमा पाऊ ये कोई बड़ी बात नही है | आगे आप इस article को धियान से पढ़े आप को खुद समझ में आ जाएगा |

  1. English Blog

आप को ads नेटवर्क  का अप्रूवल जल्दी मिल जाता है इंग्लिश लेंग्वागे ओवर वर्ल्ड चलता है तो आप का ब्लॉग ग्लोबले  पूरा दुनिया देख सकता है  और जितने भी affiliate marketing है सब आप को जल्दी ही अप्रूवल दे देते है | इंग्लिश ब्लॉग मेंआप को टाऑडियंस मिलता है, इंग्लिश ब्लॉग

 

को कही पे भी एक्सेस किया जा साकता है और सब से जरुरी जो है हाई मेजर ट्रैफिक जो होता है वो होता हैं USA,Canada,UK यहाँ का जो ट्रैफिक अगर आप के साईट पे आता है  तोह आप का revenue बहुत जादा बनेगा |

इंग्लिश ब्लॉग पे एक प्रोब्लम है जो आप को परेशान करेगा वो है  competition इंग्लिश ब्लॉग में आप को हद से जादा competition देखने को मिलेगा आप का ब्लॉग रैंक होने में बहुत टाइम लगेगा क्यों की इंग्लिश ब्लॉग ओवर पूरा वर्ल्ड करता है इसलिए competition इंग्लिश ब्लॉग में बहुत जादा है इसे आप को रैंकिंग में प्रोब्लम आएगा |

1.हिंदी ब्लॉग 

आप को हिंदी ब्लॉग में रैंकिंग थोडा easy है इंग्लिश ब्लॉग के मुकाबले  क्यों की हिंदी ब्लॉग इंडिया, या इंडिया के आस पास के ही देशो में पढ़ी जाता है तो आप को इंग्लिश ब्लॉग के मुकाबले यहाँ competition  थोडा कम मिलता है|

  जिस से आप रैंक जल्दी कर सकते हो  जल्दी रैंक का मतलब ये नही की आप Keyword Research ना करे Keyword Research तोह आप को हिंदी ब्लॉग में भी करना पड़ेगा |

हिंदी ब्लॉग में आप को स्पोंसर शिप लिमिटेड मिलता है क्यों की हिंदी ब्लॉग पे स्पोंसर शिप देने वाले इंडिया या इसके आस पास के ही होते है| जिसे आप को कम पैसे मिलते है हिंदी ब्लॉग पे और हिंदी ब्लॉग पे आप को कुछ ads नेटवर्क अप्रोवल नही देते है हालाकि कुछ साल पहले 

अद्सेंस अप्रोवल देने लगा है  पहले नही देता था और Media.net अभी भी हिंदी ब्लॉग को अप्रव नही करता है हिंदी ब्लॉग पे आप को कम रेट के ad,s दीखते है google adsence के द्वारा अब आप को जादा कुछ तो खुद Keyword Research कर के देखना पड़ेगा की मुझे किस पे ब्लॉग करना है |

 

 

Leave a Comment